About apj Abdul Kalam in Hindi For students and children


  about apj abdul kalam in hindi -अब्दुल कलाम पर हिंदी निबंध

आइये सीखते है अब्दुल कलाम पर हिंदी निबंध –                                                

 

परिचय – 

डॉo एo पीo जेo अब्दुल कलाम भारत के ग्यारहवें राष्ट्रपति के रूप में निर्वाचित किये गए थे | अब्दुल कलाम को भारत का ‘ मिशाइल मैन ‘ भी कहा जाता है | वे एक इंजीनियर के साथ भारत के वैज्ञानिक भी थे तथा बाद में उन्हें भारत का राष्ट्रपति भी निर्वाचित किया गया |

 जन्म तथा शिक्षा –

डॉo एo पीo जेo कलाम का जन्म तमिलनाडु के रामेश्वरम के एक गाँव धनुषकोडि के एक मुस्लिम अंसार परिवार में 15 अक्टूबर 1931 को हुआ | इनके पिता का नाम जैनुलाब्दीन था जो पेशे से  एक मछुवारा था और काम पढ़े – लिखे के साथ गरीब इंसान भी थे | कलाम का पूरा नाम अबुल पाकिर जैनुलाब्दीन था | इनका भरण – पोषण एक संयुक्त गरीब परिवार में संपन् हुआ |

about apj abdul kalam in hindi
THE LEGEND DR. A.P.J ABDUL KALAM

 पाँच वर्ष की अवस्था में इनका नामांकन गाँव के एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय में हो गया | इनकी प्रारंभिक शिक्षा सरकारी स्कूल से ही संपंन्न हुई |नके शिक्षक अयादुरे सोलोमन एक बार बच्चो को पक्षियों के उड़ने के सिद्धांत समझा रहे थे परन्तु बच्चे इस तथ्य को बिना प्रयोगिकी के समझ पाने में असहज महसूस कर रहे थे | सोलोमन ने बच्चो को समुद्र के किनारे पक्षियों के उड़ने की जिवंत उदाहरण से अवगत कराया तभी उस वक्त कलाम इस घटना से परिचित कर रहे थे और फिर अपना लक्ष्य निर्धारित किया और  वैमानिकी इंजीनियरिंग की पढाई करने का लक्ष्य बना लिया |

 

उनके शिक्षक अयादुरे सोलोमन कहा करते थे की  जीवन मे सफलता तथा अनुकूल परिणाम प्राप्त करने के लिए तीव्र इच्छा, आस्था, अपेक्षा इन तीन शक्तियो को भलीभाँति समझ लेना और उन पर प्रभुत्व स्थापित करना चाहिए। इस कथन ने तो कलाम की जीवन दशा ही बदल कर रख दी |

about apj abdul kalam in hindi –अब्दुल कलाम पर हिंदी निबंध 

उन्होंने अपने शिक्षक की इस कथन को अपने जीवन का मार्ग बना लिया और इस कथन की गहराईओं को प्राप्त कर लिया था | तथा जीवन के इस संघर्ष में कामयाबी की उचाईया चढ़ती चली गयी | अब्दुल कलाम को अपनी पढाई जारी रखने के लिए अख़बार भी बेचना पड़ा था | कलाम ने 1950 में मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलजी से अंतरिक्ष विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की थी | ग्रेजुएशन की डिग्री के बाद हावरक्राफ्ट परियोजना पर कार्य करने के लिए उन्होंने भारतीय रक्षा अनुसंधान एवं विकास संस्थान में प्रवेश लिया |

अब्दुल कलाम की उपलब्धिया –

1962 में वे भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन को ज्वाइन कर लिया और  कई सारे उपग्रह परछेपन परियोजनाओं में भूमिका निर्वाह की | परियोजना निदेशक के रूप में भारत के पहले स्वदेशी उपग्रह परछेपन यान SLV 3 के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई | जिससे जुलाई 1982 में रोहिणी उपग्रह सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में प्रक्षेपित किया गया था |

about apj abdul kalam in hindi –अब्दुल कलाम पर हिंदी निबंध 

लाम एक राष्ट्रपति के रूप में –

सन 2002 ईo में भारतीय जनता पार्टी तथा विपक्ष भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अथक प्रयाश के बावजूद डॉo कलाम ने राष्ट्रपति का पद संभल लिया | पाँच वर्ष की सेवा देने के पश्चात ही उन्होंने पुनः समाज  सेवा, लेखन तथा शिक्षा के अपने नागरिक जीवन में लौट आये |

निधन –

भारतीय प्रबंधन संसथान शिलॉन्ग में एक भासन के दौरान 27 जुलाई 2015 की शाम को दिल के दौरा आ जाने की वजह से इस दुनिया को अलविदा कह गए | 30 जुलाई 2015 को पूर्व राष्ट्रपति को पूरे सम्मान के साथ रामेश्वरम के पी करूम्बु ग्राउंड में दफ़ना दिया गया |  

about apj abdul kalam in hindi –अब्दुल कलाम पर हिंदी निबंध 

और अधिक पढ़ने के लिए क्लिक करे !

इस लेख को पढ़ने के लिए आपका दिल से आभार !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *