Essay on Cricket in Hindi For Students

 essay on cricket in hindi – क्रिकेट पर हिंदी निबंध 

16 वी सदी में शुरू हुए  क्रिकेट का आज इस आधुनिक युग में स्वरूप बिल्कुल ही बदल चुका है | आज क्रिकेट दुनिया में दूसरे नंबर पर सर्वाधिक पसंद किया जाने वाला खेल माना जाता है |  आज दुनिया में क्रिकेट के करोड़ों फैंस मौजूद है और हमारे देश भारत में क्रिकेट की तो बात ही अलग है यहां हर घर में एक क्रिकेटर मौजूद है यह बच्चे , बूढ़े  क्या महिलाएं भी इस खेल को देखने के लिए उत्सुक रहती है बल्कि  इस खेल के नियमों को भलीभांति समझती भी है |  भारतीय समाज में इस खेल की  लोकप्रियता काफी सर पर है | आए दिन भारत में परीक्षाएं होती रहती है जिसमें बच्चों को कक्षा 2 ,3. 4 से 12 तक  के लिए हमने निबंध तैयार किये है | जिसमे  आप की आवश्यकताओं के अनुसार लघु, मध्यम और दीर्घ क्रिकेट पर  हिंदी निबंध 2021( short , medium and long essay ) प्रस्तुत करने जा रहे हैं आशा करता हूं आपको या बहुत पसंद आएगा तो चलिए बिना समय गवाएं निबंध की ओर – 

क्रिकेट पर हिंदी निबंध – 2021 

निबंध 1 ( 200 शब्दों में ) –

क्रिकेट आज दुनिया में सबसे अधिक लोकप्रिय खेलों में जाना जाता है  | यह एक गेंद और  बल्ले की मदद से खेला गया एक बेहद ही रोमांचक खेल होता है |  यह खेल दो दलों के बीच खेला जाता है जिसमें प्रत्येक दल में 11 -11 सदस्य होते हैं , जो सक्रिय रूप से खेल के मैदान में खेलते हुए दिखाई देते है |

इस खेल में एक पक्ष गेंदबाज़ी करते दिखाई देता है तो वही दूसरा पक्ष बैटिंग करते दिखाई देते है | क्रिकेट के लिए मैदान की संरचना अंडाकार होती है जिसकी सुरक्षा खेल रहे खिलाड़ियों द्वारा की जाती है |मैदान के मध्य भाग में  एक आयताकार पट्टी होती है जिसे हम पिच भी कहते है , जिसपर खिलाडी बल्ले और गेंद की मदद से अपना प्रदर्शन करते है |

essay on cricket in hindi

 essay on cricket in hindi – क्रिकेट पर हिंदी निबंध 

इस खेल  के दौरान जो पक्ष सबसे अधिक रन इकठ्ठा करता है और बिपक्ष के सभी खिलाड़ियों को एक निर्धारित स्कोर पूर्ण करने से पहले ही मैदान से बहार कर देते है , तो उस पक्ष की जीत घोषित हो जाती है |   क्रिकेट संसार के 100 से भी अधिक देशों में खेला जाता है | इस खेल को सभी आयु वर्ग के लोगों के द्वारा काफी पसंद किया जाता है |

क्रिकेट के बारे में 10 लाइन – 

१. क्रिकेट विश्व की दूसरी सर्वाधिक लोकप्रिय खेल है | 

२. क्रिकेट भारत की सर्वाधिक लोकप्रिय खेल है | 

३. क्रिकेट की शुरुआत इंग्लैंड से हुयी थी | 

४. यह दो दलों के बिच खेला जाने वाला खेल है | 

५. इस खेल में दो दलों के ११ – ११ खिलाड़ी सक्रीय रूप से मौजूद होते है | 

६. टेस्ट मैच , टी- २० , वनडे आदि क्रिकेट खेल के स्वरुप है | 

७. क्रिकेट का मैदान अंडाकार होता है | 

८. इस खेल में मैदान के अंदर दो निर्णायक अम्पायर होते है | 

९. यह अकसर शरद ऋतू में खेला जाने वाला खेल है | 

१०. इस खेल को सभी आयु वर्ग के लोग खेलने में रूचि लेते है | 

निबंध 2 (1000  शब्दों में ) –

प्रस्तावना –

आज के समय में क्रिकेट दुनिया में सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला खेल बन चुका है |  क्रिकेट का खेल प्राचीन माना जाता है |  तथ्यों से पता चलता है की क्रिकेट की शुरुआत निश्चित रूप से 16 वीं शताब्दी के दौरान इंग्लैंड के ट्यूडर समय से प्रचलन में आना शुरू हो गया था | यह दो दलों के बीच खेला गया बहुत ही रोमांचक खेल होता है |

दोनों दलों में 11-11  सदस्य होते हैं जो सक्रिय रूप से खेल के मैदान में दिखाई देते हैं | दरअसल यह बाहरी भूमि पर खेला गया खेल होता है असल में इस खेल का मैदान अंडे कार संरचना का होता है | मैदान के मध्य भाग में एक आयताकार पट्टी  होती है इसके दोनों छोर पर लकड़ी के डंडों से खड़ा किया हुआ विकेट होता है जिसके एक छोड़ पर बल्लेबाज़  तैयार होते हैं और दूसरे छोर पर गेंदबाज | यह दुनिया के लगभग  सभी देशों में खेला जाने वाला खेल है |

इस खेल की लोकप्रियता इस बात से लगाया जा सकता है कि देश के छोटे-छोटे बच्चे गेंद और बल्ला  लेकर गांव की गलियों।, सड़को ,खेतों में क्रिकेट का खेल खेलते हुए यूं ही नजर आ जाते हैं |  लोगों में इस खेल की  इतनी अधिक प्रसिद्धि है कि जब बच्चे स्कूल से वापस आते हैं तो गेंद और बल्ला लेकर सड़को , बगीचों ,खेत -खलिहानो ,खेल के मैदानों आदि में जाकर क्रिकेट का खेल खेलना शुरू कर देते है |

  इस  खेल से बच्चों में शारीरिक क्षमता का विकास होता है , खेल से बच्चे शारीरिक रूप से मजबूत भी होते हैं | परंतु यह खेल कभी  निराशाजनक भी साबित होती है जब बच्चे खेल के दौरान चोटिल अथवा घायल हो जाते हैं |इस खेल की लोकप्रियता के साथ – साथ  हमारे लिए उतना ही यह खतरनाक साबित हो भी जाता है | 

इस खेल में जो बॉल का इस्तेमाल किया जाता है वो  काफी  सख्त  होते हैं और उनसे किए गए प्रहार  इंसान के लिए काफी दर्दनाक भी होते है  |

मेरा प्रिय खेल के रूप में क्रिकेट –

क्रिकेट मेरे लिए एक नशा बन गया है | स्कूल तथा ट्यूशन से आने के बाद मै दोस्तों के साथ हमेशा की तरह  क्रिकेट खेलने के लिए चला जाता हूँ | कल क्रिकेट खेलने के दौरान मेरे पांव में चोट आ गई थी और उसके बादमै शीघ्र वापस घर चला आया | मां के द्वारा पूछने पर मैंने कहा साइकिल वाले ने मुझे थोड़ी सी चोट पहुंचा दी | 

मैंने मां से झूठ इसलिए बोला क्योंकि अगर मैं बोलता कि मैं क्रिकेट खेलने के दौरान घायल हो गया हूं तो मेरी मां मुझे क्रिकेट खेलने से मना कर देती | मैंने बहाने बनाकर फिर से क्रिकेट खेलने के लिए कल अपने दोस्तों के साथ निकल पड़ा | मेरे पिताजी हमेशा कहा करते हैं कि क्रिकेट खेलने से क्या होगा पढ़ लिख कर तुम एक अच्छा इंसान बन सकोगे |

 essay on cricket in hindi – क्रिकेट पर हिंदी निबंध 

पर मेरी कुछ समझ में नहीं आता मैं फिर वही गलती करता हूं ,दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलने चला जाता हूँ | धीरे-धीरे मैट्रिक एग्जाम मेरे सर पर आ गया मैट्रिक  की तैयारी से सही ढंग से नहीं कर सका | जब मैट्रिकुलेशन का रिजल्ट आया तो पता चला कि मैं फेल हो चुका हूँ |

  वहीं दूसरी ओर  जब मैं खेल के दौरान चौके, छक्के लगाता तो मेरे दोस्त लोग मुझे कहते हैं तू बहुत अच्छा खेलता है | तब मैं बहुत ज्यादा खुश होता था एक दोस्त ने मुझे मैट्रिकुलेशन के परिणाम के बारे में बताया कि मैं फेल हो चुका हूँ |  मेरे फेल होने के कारण मेरा क्रिकेट था | 

पता नहीं जब मैं क्रिकेट नहीं खेलता हूं तो मेरा सारा दिन अच्छा नहीं रहता, मुझे खाना पीना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता मैं माता पिता की डांट फटकार सुनकर भी क्रिकेट खेलने चला जाता हूँ |  अब मैं अगले साल अच्छे से मेहनत कर परीक्षा में सफल भी हो गया लेकिन  क्रिकेट मुझसे ना छूटा , खेलता ही रह गया | मेरे द्वारा किए गए अनुभव मैं आप लोगों के साथ साझा कर रहा हूँ |

उपसंहार –

क्रिकेट आज दुनिया के महत्वपूर्ण खेलों में जाना जाता है | यह आज दुनिया में बहुत अधिक प्रसिद्ध हो गया है | क्रिकेट खेलने से हमारे अंदर शारीरिक शक्ति में वृद्धि भी होती है | क्रिकेट खेलने से हमारे शरीर का शारीरिक विकास भी होता है | जहाँ क्रिकेट खेलकर लोग नाम रौशन  कर रहे है |

  वहीं दूसरी ओर ऐसे भी लोग हैं जो क्रिकेट के दंश से जीवन जीवन भर मुसीबतों में उलझे हुए हैं | खेल के दौरान प्रयोग किया गया बॉल काफी सख्त होता हैं | क्रिकेट के खेल के दौरान अक्सर दुर्घटनाएं होती रहती है | क्रिकेट का गेंद अगर किसी को लग जाता है तो काफी ज्यादा दर्द का सामना करना पड़ता है |

 essay on cricket in hindi – क्रिकेट पर हिंदी निबंध 

आज की आधुनिक दौर में क्रिकेट में चोट लगने से खिलाड़ी कई सारी बीमारियों के शिकार भी हो जाते हैं | क्रिकेट एक ऐसा खेल होता है जिसमें खेलने वाले के साथ साथ देखने वाले दर्शकों का भी  समय का एक बहुत बड़ा भाग व्यर्थ चला जाता है | इस  खेल की लोकप्रियता के कारण आज कितनी ही इंसान ऐसे  है जो इस खेल से प्रभावित हो चुके हैं |

आजकल हम समाज में देखते हैं कि क्रिकेट खेल के दौरान बहुत सारे ऐसे बच्चे होते हैं जो स्कूल या ट्यूशन तक भी छोड़ देते है | बच्चो की  पढ़ाई का समय सारणी में भी  बदलाव आ जाता है | जहाँ  क्रिकेट हमें नाम ,इज़्ज़त और शोहरत भी देता है वहीं दूसरी ओर इसके नकारात्मक पहलू भी हमारे समाज में देखने को भी मिलते हैं |

  क्रिकेट की लोकप्रियता और प्रसिद्धि  के कारण ही आजकल के स्टूडेंट पढ़ाई में पिछड़ते जा रहे हैं | घर बैठे ही बच्चे अपने हाथ में पड़े स्मार्टफोन के द्वारा क्रिकेट के सारे विवरणों को समझते रहते हैं भले ही परीक्षा सर पर रहती है |

निबंध 3 ( 600 शब्दों में ) –

भूमिका

जहाँ लोगो को अपने कार्य करते – करते बोरियत का अहसास होने लगता है वही क्रिकेट हमारे थकान को भी दूर करने का भी काम करता है | क्रिकेट की दीवानगी आज लोगो के सर चढ़ कर बोलने लगा है | क्रिकेट आज एक बड़ा व्यापार बन चूका है | क्रिकेट आज दुनिया के लगभग सभी हिस्सों में जाना जाता है |

क्रिकेट में खेल की विधियाँ –

इस खेल में दो दल होते है | जिसमे 11 – 11 खिलाड़ी मौजूद होते है | खेल प्रारम्भ होने से पहले दोनों दलों के बिच सिक्के को उछलकर शुभारम्भ किया जाता है | मैदान के बीचोबिच एक आयताकार पट्टी होती है जिसपर ही खिलाडी खेल खेलते है | जिसमे बल्लेबाज़ पक्ष के द्वारा निर्धारित बाल की संख्या ( ओवर ) तक अधिकतम रन बनाकर  के खेल को समाप्त किया जाता है |

तथा कुछ समय के उपरान्त दूसरी पारी का शुभारम्भ किया जाता है | जिसमे गेंदबाज की टीम खेलते हुए निर्धारित गेंद पर लक्ष्य को प्राप्त करना होता है परन्तु ऐसा नहीं करने पर वे पराजय हो जाते है | खेल की निगरानी करने के लिए दो अंपायर को नियुक्त किया जाता है | जिसके फैसले के आधार पर खेल की दिशा तय होती है |

क्रिकेट की शुरुआत –

तथ्य और आंकड़ों के आधार पर ऐसा माना जाता है कि क्रिकेट की शुरुआत इंग्लैंड की धरती से 16वीं शताब्दी में  हुई है |  दरअसल क्रिकेट इंग्लैंड के बच्चों के द्वारा लकड़ी के डंडे और भेंड़ की बाल से बने गेंद  बनाकर खेले जाते थे | बाद में इसकी लोकप्रियता बढ़ने लगी और सभी उम्र के लोग इस खेल को मनोरंजन के रूप में खेलने लगे |

  इंग्लैंड के लोग छुट्टियों के दौरान जब शहर से दूर निकलते थे तो इस खेल को खेलते हुए इस का आनंद उठाते थे | आज आधुनिक युग में क्रिकेट दुनिया का  दूसरा सर्वाधिक लोकप्रिय खेल बन गया तथा भारत की सर्वाधिक लोकप्रिय खेल बन गया  – क्रिकेट |

क्रिकेट के प्रति लोगो की दीवानगी – 

क्रिकेट दुनिया में दूसरे नंबर पर सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला खेल है |  भारत में जितने भी खेल है उनमें क्रिकेट सर्वाधिक लोकप्रिय माना जाता है | जबकि भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है परंतु लोग सुबह सवेरे उठते ही  क्रिकेट का गुणगान गाने लगते हैं |

भारत में जितने अधिक संख्या में लोग है उसी अनुपात में क्रिकेट के दीवाने भी मौजूद है | भारत के अंदर क्रिकेट लोगों की पसंद नहीं बल्कि उनका जुनून बन चुका है |  यहां लोग अपने महत्वपूर्ण कार्यों को आसानी से छोड़कर क्रिकेट की तरफ आकृष्ट हो जाते हैं |

 essay on cricket in hindi – क्रिकेट पर हिंदी निबंध 

भारत में बेरोजगारी अत्यधिक मात्रा में फैली हुई है इसलिए यहां के लोग भी क्रिकेट के लिए खूब समय दे पाने में सक्षम हि बजाय की उस खाली समय में वे कुछ अध्ययन कर सकते है या फिर नयी कौशल को सिख सकते है |  भारत में विभिन्न आयु वर्ग के लोगों का क्रिकेट देखना आम बात है | यहाँ लोग अपने खाली समय का अधिकतर समय क्रिकेट देखने में सहज महसूस करते है | 

निष्कर्ष – 

आज क्रिकेट का पूरी दुनिया में लोकप्रियता देखने को मिलती है | खाली समय में क्रिकेट खेलना सच  में शारीरिक दृष्टिकोण से हमे शशक्त और मजबूत बनाता है | बच्चों को शिक्षा ग्रहण के करने के साथ-साथ क्रिकेट के खेल का भी मनोरंजन करना चाहिए जिससे कि मनोरंजन के साथ-साथ शरीर में ऊर्जा बनी रहे |

क्रिकेट खेल में अत्यधिक परिश्रम करने के चलते हमारा शरीर शारीरिक रूप से सशक्त और सबल  होता है|  परंतु आज हमारे समाज में इसके नकारात्मक रूप भी देखने को मिलते हैं | हमारे समाज ऐसे भी परिवार है जहां बच्चे पढ़ाई लिखाई को छोड़कर सारा दिन क्रिकेट के पीछे ही व्यतीत कर देते हैं |

  हमे क्रिकेट के खेल को  सकरात्मक रूप में अपनाना चाहिए न की बल्कि इसे हम अपना लत बना ले जिससेहमारा भविष्य खतरे में पर जाए |  

इस लेख को प्यार देने के लिए आपका  शुक्रिया !

और अधिक पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे >>>>>

 essay on cricket in hindi – क्रिकेट पर हिंदी निबंध 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *